हिन्दी के बीस लेखकों की किताबें प्रकाशित करेगा कलमकार मंच

( # media chakra, # news in hindi, # मीडिया चक्र, # हिंदी समाचार,)

कलमकार मंच की ओर से देश के हिन्दी साहित्य सृजकों को सम्मान और मंच देने की कड़ी में हिन्दी के बीस लेखकों की किताबें प्रकाशित करने का निर्णय किया गया है। इसके तहत कोई भी लेखक अपने हिन्दी के अप्रकाशित एवं मौलिक कहानी संग्रह, कविता-गीत एवं गजल संग्रह, लघुकथा संग्रह, उपन्यास अथवा कथेतर गद्य की पाण्डुलिपि हमें प्रेषित कर सकते हैं।

नियम एवं शर्तें :-

1. पाण्डुलिपि पूर्ण रूप से मौलिक एवं अप्रकाशित होना अनिवार्य है। सोशल मीडिया या अन्य किसी भी स्वरूप में प्रकाशित अथवा प्रसारित रचनाओं को संग्रह में शामिल न करें, उन पर विचार नहीं किया जाएगा।
2. संपादक मंडल एवं चयनकर्ताओं का निर्णय अंतिम होगा।
3. प्रत्येक किताब 100 से 125 पृष्ठ की होगी। अत: रचनाएं उसके अनुरूप भेजें।
4. चाणक्य एवं यूनीकोड फॉन्ट में टाइपशुदा सॉफ्ट कॉपी में ही पाण्डुलिपि स्वीकार की जाएगी। अन्य किसी फॉन्ट अथवा प्रारूप में पाण्डुलिपि स्वीकार नहीं की जाएगी।
5. पाण्डुलिपि के साथ लेखक को स्वरचित, मौलिक एवं अप्रकाशित होने का प्रमाण पत्र संलग्न करना अनिवार्य है।
6. चयनित लेखकों और उनकी किताबों का प्रकाशन, समीक्षा, बिक्री, प्रमोशन आदि कलमकार मंच करेगा।
7. लेखक को उसकी किताब पर 25 प्रतिशत रॉयल्टी दी जाएगी।
8. जिन लेखकों की किताबें प्रकाशित की जाएंगी, उन्हें उनकी किताब की पांच प्रति नि:शुल्क दी जाएंगी।
9. जिन लेखकों की पाण्डुलिपि प्रकाशन के लिए चयनित कर ली जाएगी। वह लेखक आगामी तीन वर्ष तक उस पाण्डुलिपि अथवा उन रचनाओं को अन्य जगह प्रकाशन के लिए नहीं दे सकते। उसके बाद यदि कहीं प्रकाशन के लिए देते हैं तो कलमकार मंच को सूचित करेंगे। इस संबंध में लेखक को घोषणा पत्र संलग्न करना होगा।
10. अपनी प्रविष्ठि टाइपशुदा पाण्डुलिपि के साथ हमें 31 जुलाई, 2018 तक kalamkarmanch@gmail.com पर ईमेल करें।
11. नियम एवं शर्तों में कलमकार मंच परिवर्तन कर सकता है। लेखक के लिए परिवर्तित नियम एवं शर्तें स्वीकार्य होंगी।

** आप Media Chakra (मीडिया चक्र) को Facebook, twitter, Google+ पर भी फॉलो कर सकते हैं। मीडिया चक्र पर विस्तृत समाचार पढ़ने के लिए www.mediachakra.com पर login करें।

It's only fair to share...Share on FacebookShare on Google+Tweet about this on Twitter

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*